चाँद की चांदनी, अपनों का प्यार

गुलाल का रंग, गुब्बारों की मार,

सूरज की किरणे,खुशियों की बहार,

चाँद की चांदनी, अपनों का प्यार,

मुबारक हो आपको रंगों का त्यौहार!!

Related Shayari

When I fight with you

When I fight with you, I’m really fighting for us, if I didn’t care I wouldn’t bother.
Read more...

True love is tight hug after a fight

True love is tight hug after a fight.
Read more...

सफ़र तुम्हारे साथ बहुत छोटा था

सफ़र तुम्हारे साथ बहुत छोटा था, मगर यादगार हो गये तुम अब जिदंगी भर के लिए..!
Read more...

You may also like

दोस्ती से बड़ी इबादत

रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी, दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी, जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा, उसे ज़िन्दगी से कोई और शिकायत क्या होगी।
Read more...

वक़्त गुजर जायेगा…

साथ रहते यूँ ही वक़्त गुजर जायेगा, दूर होने के बाद कौन किसे याद आयेगा, जी लो ये पल जब तक साथ है दोस्तों, कल क्या पता वक़्त कहाँ ले के जायेगा।
Read more...

तुमसे प्यार करता हूँ कोई भी

ये मत पुछ कि मैं तुमसे कितना प्यार करता हूँ? बस इतना जान लो कि, बस तुमसे करता हूँ और बेपनाह करता हूँ।
Read more...

ज़िन्दगी हर पल कुछ खास नहीं होती

ज़िन्दगी हर पल कुछ खास नहीं होती, फूलों की खुशबू हमेशा पास नहीं होती, मिलना हमारी तक़दीर में था वरना, इतनी प्यारी दोस्ती इत्तेफाक नहीं होती।
Read more...

प्यार के रिश्ते की हो गयी है

Read more...

Karte Ho Itni Nafarat…

Chala Jaunga Main Dhundh Ke Badal Ki Tarah,
Dekhte Rah Jaoge Mujhe Pagal Ki Tarah,
Jab Karte Ho Mujhe Itni Nafrat Toh Kyun?
Sajaate Ho Aankhon Mein Mujhe Kajal Ki Tarah.

Read more...