The body of a man is like a chariot

The body of a man is like a chariot.

His soul means intellect is driver,
the senses are horses and the mind is a rein (rope).

If the driver trains the horse by pulling the rein well,
then such wise and patient person can travel the peaceful journey of life.

Good Morning

Keep your Self Esteem

जोड़े सबके सपने और टूटा दिल उस से ज्यादा,

रोया अंदर से बहुत और तड़पा हद से ज्यादा,

मगर झुका नही सर कभी किसी के सामने

क्योंकि भीख मांगी नही और आन बान शान दुनिया से ज्यादा !

अकड़ पूरी है और गुस्सा आग से ज्यादा,

दिल साफ है और बवाल हद से ज्यादा,

हक़ का मांगा और परवाह नही किसी को खोने की

क्योंकि गलती है नही और वफादारी सबसे ज्यादा !