यूं तो उलझे हैं सभी अपनी-अपनी उलझनों में

यूं तो उलझे हैं सभी अपनी-अपनी उलझनों में,

पर सुलझने की कोशिश हमेशा खुद को ही करनी पडेगी

Related Shayari

यूं तो उलझे हैं सभी अपनी-अपनी उलझनों में

यूं तो उलझे हैं सभी अपनी-अपनी उलझनों में, पर सुलझने की कोशिश हमेशा खुद को ही करनी पडेगी
Read more...

All are entangled in their own problems

all are entangled in their own problems, but always try to solve them themselves. Good Morning
Read more...

आज एक ही परिवार में कई पड़ोसी हो गये हैं।

एक जमाना था जब पड़ोसी भी परिवार का हिस्सा थे ... और आज एक ही परिवार में कई पड़ोसी हो गये हैं।
Read more...

You may also like

वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते हैं कुछ रिश्ते

वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते हैं कुछ रिश्ते
कसूर हर बार गल्तियों का नही होता

vaham se bhi aksar khatm ho jaate hain kuchh rishte
kasoor har baar galtiyon ka nahee hota

Read more...

Hum samandar hai

Hum samandar hai hamen khamoosh rahne do
zara machal gaye to shahar le doobengey

हम समंदर है हमें खामोश रहने दो
ज़रा मचल गए तो शहर ले डूबेंगे

Read more...

फासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना

Faasle to badha rahe ho magar itna yaad rakhna
Ke mohabbat baar baar insaan par meharbaan nahin hoti
फासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना
के मोहब्बत बार बार इंसान पर मेहरबान नहीं होती

Read more...

वक़्त गुजर जायेगा…

साथ रहते यूँ ही वक़्त गुजर जायेगा, दूर होने के बाद कौन किसे याद आयेगा, जी लो ये पल जब तक साथ है दोस्तों, कल क्या पता वक़्त कहाँ ले के जायेगा।
Read more...

ज़िन्दगी हर पल कुछ खास नहीं होती

ज़िन्दगी हर पल कुछ खास नहीं होती, फूलों की खुशबू हमेशा पास नहीं होती, मिलना हमारी तक़दीर में था वरना, इतनी प्यारी दोस्ती इत्तेफाक नहीं होती।
Read more...

Har Ek Haseen Chehre Mein Gumaan Uska Tha

Har Ek Haseen Chehre Mein Gumaan Uska Tha,
Basaa Na Koi Dil Mein Ye Makaan Uska Tha,
Tamaam Dard Mit Gaye Mere Dil Se Lekin,
Jo Na Mit Saka Woh Ek Naam Uska Tha.

Read more...