फासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना

Faasle to badha rahe ho magar itna yaad rakhna
Ke mohabbat baar baar insaan par meharbaan nahin hoti
फासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना
के मोहब्बत बार बार इंसान पर मेहरबान नहीं होती

Related Shayari

बदले में कुछ मत मांगो

कुछ मत पूछो, बदले में कुछ मत मांगो। जो देना है वो दो, वो तुम तक वापस आएगा, पर उसके बारे में अभी मत सोचो। - स्वामी विवेकानंद
Read more...

Meri Bhi Burai Karte Honge

Yadi Aap Mere Pass Aakar Kisi Aur Ki Burai Karte Hain... To Mujhe Koi Sandeh Nahi Ki Aap Dusron Ke Pass Jaa Kar... Meri Bhi Burai Karte Honge..!!… -Swami Vivekananda
Read more...

True guidance is like a small torch

True guidance is like a small torch in a dark forest, it doesn’t show everything once. But gives enough light for the next step to be safe. -Swami Vivekananda
Read more...

You may also like

दोस्ती से बड़ी इबादत

रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी, दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी, जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा, उसे ज़िन्दगी से कोई और शिकायत क्या होगी।
Read more...

वक़्त गुजर जायेगा…

साथ रहते यूँ ही वक़्त गुजर जायेगा, दूर होने के बाद कौन किसे याद आयेगा, जी लो ये पल जब तक साथ है दोस्तों, कल क्या पता वक़्त कहाँ ले के जायेगा।
Read more...

फासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना

Faasle to badha rahe ho magar itna yaad rakhna
Ke mohabbat baar baar insaan par meharbaan nahin hoti
फासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना
के मोहब्बत बार बार इंसान पर मेहरबान नहीं होती

Read more...

प्यार के रिश्ते की हो गयी है

Read more...

वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते हैं कुछ रिश्ते

वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते हैं कुछ रिश्ते
कसूर हर बार गल्तियों का नही होता

vaham se bhi aksar khatm ho jaate hain kuchh rishte
kasoor har baar galtiyon ka nahee hota

Read more...

तुमसे प्यार करता हूँ कोई भी

ये मत पुछ कि मैं तुमसे कितना प्यार करता हूँ? बस इतना जान लो कि, बस तुमसे करता हूँ और बेपनाह करता हूँ।
Read more...